भारतीय गणतंत्र की शानदार प्रगति।


भारत 70 वां गणतंत्र दिवस मना रहा है। इस अवसर पर पिछले संघर्षों और हर्षोल्‍लास का आकलन करना स्‍वाभाविक है। जब महात्‍मा गांधी के नेतृत्‍व में देश लंबे स्‍वाधीनता संग्राम के बाद आजाद हुआ तब उप-महाद्वीपीय तुलना के आधार पर भारत के सामने सैंकड़ों समस्‍याएं थीं। 1950 में गणराज्‍य की…

पाकिस्तान का बेलआउट इतिहास इसके आर्थिक विकास का हिस्सा है


पाकिस्तान की आर्थिक कठिनाइयाँ जारी हैं, क्योंकि इसे अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (आई॰एम॰एफ) से एक बेलआउट प्राप्त करने में कठिनाई हो रही है। विगत में, इस संकट से निपटने के लिए इस्लामाबाद को अपने सहयोगी, सऊदी अरबिया से 2 बिलियन अमरीकी डॉलर की सहायता मिली थी। चीन ने भी एक अनुदान…

जीसीसी बैठक असफल


लगभग डेढ़ साल से जारी गल्फ संकट के समाधान की उम्मीद फिर से खत्म हो गई जब क़तर के अमीरों ने रियाद में प्रस्तावित 39वीं गल्फ़ सहयोग परिषद सम्मेलन में भाग न लेने का फैसला किया। कतर का प्रतिनिधित्व उसके विदेश मंत्री सुल्तान बिन साद अल कुरैशी कर रहे थे। यह…

संसद का शीतकालीन सत्र


संसद का शीतकतलीन सत्र कल से शुरू होगा | महीने भर चलनेवाले इस सत्र में बीस बैठकें होंगी | इस सत्र के दौरान, राज्य सभा में आठ महत्वपूर्ण विधेयक तथा लोक सभा में 15 विधेयक पेश किए जाएंगे | अगले लोक सभा चुनावों के पहले, संसद का यह अंतिम पूर्णकालिक…

विश्व व्यापार संगठन में सुधार : आगे का रास्ता।


दूसरे विश्वयुद्ध के बाद जनरल एग्रीमेण्ट ऑन टैरिफ्स् एण्ड ट्रेड्स यानि गैट और उसके परवर्ती विश्व व्यापार संगठन ने वैश्विक व्यापार व्यवस्था को सहज बनाने में अहम भूमिका निभाई है। इसके तहत नियम बनाए गए, प्रक्रियाएँ तय की गईं और उनके अनुपालन के लिए संस्थाओं का स्थापना हुई। इन सबके…