01.12.2019

देश के प्रमुख समाचार पत्रों ने विभिन्न विषयों पर समाचार प्रकाशित किये हैं

भारत-जापान टू प्‍लस टू वार्ता में आतंक के खिलाफ सख्‍त कार्रवाई पर चर्चा सभी अखबारों में है। जनसत्‍ता की सुर्खी है – आतंक मिटाने को सभी देश हों एकजुट। हिन्‍दुस्‍तान के अनुसार भारत-जापान ने जारी किया संयुक्‍त बयान। पत्र ने रक्षामंत्री राजनाथ सिंह के इस बयान को भी सचित्र प्रकाशित किया है -छदम युद्ध लड़ रहे पाक को सिर्फ हार मिलेगी।

महाराष्‍ट्र में शिवसेना, राष्‍ट्रवादी कांग्रेस पार्टी और कांग्रेस गठबंधन सरकार के विश्‍वास मत हासिल करने पर राष्‍ट्रीय सहारा की सुर्खी है – प्‍लोर टेस्‍ट में उद्धव को वॉक ओवर। वीर अर्जुन के अनुसार – उद्धव ने पास की पहली अग्नि परीक्षा – महाराष्‍ट्र नव-निर्माण सेना सहित तीन दलों के चार विधायक रहे तटस्‍थ।

झारखण्‍ड में विधानसभा चुनाव के पहले चरण के मतदान पर नवभारत टाइम्‍स लिखता है – नक्‍सलियों के गढ़ में धुआंधार वोटिंग। दैनिक जागरण के अनुसार 64 दशमलव चार-चार फीसदी वोटिंग।

हैदराबाद में वेटनरी डॉक्‍टर से दुष्‍कर्म और हत्‍या के बाद देशभर में लोगों में आक्रोश की खबर पर पंजाब केसरी की सुर्खी है – हैदराबाद और दिल्‍ली में उबाल, थाने में घुसी भीड़।

बैकिंग क्षेत्र में आज से नियम बदलने पर देशबंधु का शीर्षक है – अब 24 घंटे में किसी भी समय एन.ई.एफ.टी कर सकेंगे।