मुख्य समाचार (18.09.2020)

  1. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बिहार में कोसी रेल महासेतु का ऑनलाइन उद्घाटन किया। 516 करोड़ की लगत से बना ये पुल 1.9 किलो मीटर लम्बा है। भारतनेपाल सीमा क्षेत्र में ये रणनीतिक तौर पर मह्त्वपूर्ण है। कोविड-19 के कारण लागू लॉकडाउन के दिनों में बनकर पूरा हुआ ये पुल  जनता की 86 वर्षों से चली रही मांग का नतीजा है। 
  2. प्रधानमंत्री मोदी ने भूटान नरेश जिग्मे खेसर नामग्याल वांगचुक से बात की। भूटान नरेश ने जन्म दिवस के मौके पर उन्हें फोन किया था। श्री मोदी ने उनसे कहा कि कोविड-19 का मुकाबला  करने के लिए भारत उन्हें हर संभव सहायता देने को तैयार है।
  3. प्रधानमंत्री मोदी  ने रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से भी बात की। श्री पुतिन ने भी उन्हें जन्म दिवस की  बधाई फोन पर दी थी। दोनों नेताओं ने भारत और रूस की विशेष रणनीतिक साझेदारी को और मजबूत बनाने की इच्छा जताई।
  4. श्रीलंका के राष्ट्रपति गोटबाया राजपक्षे और प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे ने भी प्रधानमंत्री मोदी को फोन पर जन्म दिवस की बधाई दी और द्विपक्षीय संबंध और प्रगाढ़ बनाने की इच्छा व्यक्त की। कोविड-19 महामारी के दौरान भारत से मिली मदद  के लिए भी दोनों नेताओं ने आभार व्यक्त किया।
  5. केंद्रीय रसायन एवम उर्वरक मंत्री डीवी सदानंद गौड़ा ने कोविड-19 महामारी के कठिन दौर में भारतीय ड्रग उद्योग द्वारा निभाई भूमिका की सरहाना की है। उन्होंने उम्मीद जताई कि इस महामारी के सस्ते वैक्सीन के विकास और आपूर्ति में भारत का दवा उद्योग जल्द कामियाबी हासिल करेगा।
  6. प्रधानमंत्री मोदी ने कृषि संबंधी 3 नए विधेयकों के बारे में कहा है कि कुछ लोग इन्हें लेकर किसानों को गुमराह कर रहे हैं। उन्होंने इनके बारे में व्यापत आशंकाएं दूर करते हुए कहा कि किसानों को अपनी फसल बेचने के नए अवसर मिलेंगे और किसानों को अधिक लाभ मिल सकेगा ।
  7. देश में  41 लाख 12 हजार से अधिक लोग कोविड-19 के संक्रमण से उबर चुके हैं। स्‍वास्‍थ्‍य एवम परिवार कल्याण मंत्रालय के अनुसार पिछले 24 घंटे में  87,472 लोग संक्रमण से मुक्त हुए हैं। संक्रमण मुक्ति की दर 78.86% है और फिलहाल संक्रमण की दर 19.52% है।
  8. पिछले 24 घंटे में  कोविड-19 के 10 लाख 6 हजार 615 परिक्षण किये गए। अधिकारियों  का कहना है कि हाल में परीक्षण बड़े हैं अत: अधिक मामले सामने आ रहे हैं  
  9. चीन ने ताइवान खाड़ी के निकट सैन्य ड्रिल शुरू कर दी है। अमरीकी विदेशी विभाग के अधिकारी फिलहाल ताइवान दौरे पर हैं। चीन का आरोप है की अमरीका चीन को नियंत्रित करने के लिए ताइवान का प्रयोग कर रहा है।
  10. सोलोमन द्वीप समूह के नागरिकों ने सरकार से मांग की है कि वो चीन के नागरिकों को आने से रोकें। दूरदराज़ बसे इन छोटे द्वीपों में अभी कोविड-19 का संक्रमण नहीं है लेकिन लोग आशंकित हैं की यदि चीनी नागरिक आए तो संक्रमण वहां भी फैल जाएगा।