दो भारतीयों को वार्षिक विटले पुरस्कार से सम्मानित किया गया 

दो भारतीयों को देश में वन्यजीव और पक्षी संरक्षण के लिए वार्षिक विटले पुरस्कार से सम्मानित किया गया है। इस प्रतिष्ठित पुरस्कार को ग्रीन ऑस्कर भी कहा जाता है। संजय गब्बी ने कर्नाटक में बाघ संरक्षण के क्षेत्र में काम के लिए यह पुरस्कार जीता है, जबकि पूर्णिमा बर्मन को हर्गिल पक्षी और असम में इसके पर्यवास की संरक्षा के लिए महिला कार्यकर्ताओं का नेटवर्क बनाने पर सम्मानित किया गया है। प्रत्येक विजेता को परियोजना की वित्तीय सहायता के रूप में 35 हजार पाउंड की राशि मिलेगी।