भारत का पहला जनजातीय उद्यमशीलता समागम आज से छत्तीसगढ़ में बस्तर के दंतेवाड़ा में होगा

भारत का पहला जनजातीय उद्यमशीलता समागम आज से छत्तीसगढ़ में बस्तर के दंतेवाड़ा में हो रहा है। सम्मेलन का आयोजन नीति आयोग, अमरीकी सरकार के सहयोग से कर रहा है। यह कार्यक्रम आठवें वैश्विक उद्यमशीलता शिखर सम्मेलन का हिस्सा है। इस दौरान इलाके में होने वाली वन उपज और अन्य उत्पादों के लिये अनुबंध भी किये जाएंगे। इस सम्मेलन का उद्देश्य आदिवासी उद्यमियों का कौशल विकास करने के साथ-साथ उन्हें उत्पादों की ब्रांडिंग करने और बेहतर बाज़ार उपलब्ध कराने में सहायता करना है। आमतौर पर माओवादी वारदातों की वजह से सुर्खियों में रहने वाले बस्तर सम्भाग के दन्तेवाड़ा ज़िले में वैश्विक आदिवासी उद्यमिता सम्मेलन निश्चित रूप से इस पूरे क्षेत्र के विकास में मील का पत्थर साबित होगा।