उच्‍चतम न्‍यायालय में कठुआ दुष्‍कर्म और हत्‍या मामले की दो अलग अलग याचिकाओं पर आज सुनवाई

उच्‍चतम न्‍यायलय कठुआ सामूहिक दुष्‍कर्म और हत्‍या मामले से जुड़ी दो अलग-अलग याचिकाओं पर सुनवाई कर रहा है। पहली याचिका दुष्‍कर्म पीडि़ता आठ वर्षीय बच्‍ची के परिवार की ओर से कठुआ की एक महिला वकील ने दायर की है। वकील का आरोप है कि उन्‍हें यह मुकदमा लड़ने पर धमकियां मिल रही हैं।

दूसरी याचिका दिल्‍ली के एक वकील ने दायर की है जिसमें मांग की गई है कि मुकदमे को कठुआ की निचली अदालत से दिल्‍ली की स्‍थानीय अदालत में भेजा जाये। इसमें सीबीआई को जांच सौंपने तथा पीडि़ता के परिवार को उचित मुआवजा देने की भी मांग की गई है।

उच्‍चतम न्‍यायालय ने शुक्रवार को इस मामले में न्‍यायिक प्रक्रिया में बाधा डालने वाले कुछ वकीलों को फटकार लगाते हुए खुद ये मामला शुरू किया था।

इस बीच, कठुआ सामूहिक दुष्‍कर्म और हत्‍या मामले के आठ  आरोपियों ने खुद को निर्दोष बताते हुए जिला और सत्र न्‍यायाधीश से नार्को टेस्‍ट कराए जाने की मांग की है। गिरफतार आठ आरोपियों में से एक नाबालिग की जमानत याचिका दायर की है जिस पर आज सुनवाई होगी।