लड़कियों को नहीं पढ़ाने से पड़ रहा है 150-300 खरब डॉलर का भार- विश्व बैंक

विश्व बैंक ने कहा है कि लड़कियों को शिक्षित नहीं करने या उनकी स्कूली शिक्षा में बाधा डालने से विश्व पर 150 से 300 खरब डॉलर का भार पड़ता है। बैंक ने कहा कि कम आय वाले देशों में दो तिहाई से भी कम लड़कियां अपनी प्राथमिक शिक्षा पूरी कर पाती हैं और तीन में से केवल एक लड़की माध्यमिक स्कूल की पढ़ाई पूरी कर पाती है। विश्व बैंक ने संयुक्त राष्ट्र मलाला दिवस के मौके पर अपनी नई रिपोर्ट- ‘मिस्ड ऑपर्च्यूनिटीज- द हाई कॉस्ट ऑफ नॉट एजुकेटिंग गल्र्स’ में इन परिणामों को लोगों के सामने रखा है। इसमें बताया गया कि औसतन जिन महिलाओं को माध्यमिक शिक्षा प्राप्त है उनके काम कर के पैसा कमाने की संभावना उन महिलाओं से लगभग दोगुनी होती है जो अशिक्षित हैं।