प्रधानमंत्री मोदी ने मालदीव में राजनीतिक प्रक्रिया बहाल करने का आह्वान किया

 

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने मालदीव में राजनीतिक प्रक्रिया बहाल करने का आह्वान किया है। उन्‍होंने आशा व्‍यक्‍त की कि मालदीव सरकार जल्‍दी ही राजनीतिक प्रक्रिया बहाल करेगी तथा न्‍यायपालिका समेत सभी लोकतांत्रिक संस्‍थानों को स्‍वतंत्र, निष्‍पक्ष और पारदर्शी तरीके से काम करने देगी।

एक समाचार पत्र के साथ भेंटवार्ता में श्री मोदी ने कहा कि भारत एक घनिष्‍ठ और मित्र पड़ोसी मित्र देश होने के नाते मालदीव को स्थिर, शांतिपूर्ण और समृद्ध देश के रूप में देखना चाहता है जो अपने नागरिकों की आकांक्षाएं पूरी कर सके। प्रधानमंत्री ने कहा कि मालदीव में हाल के घटनाक्रम अंतर्राष्‍ट्रीय स्‍तर पर चिंता का विषय हैं।

मालदीव के राष्‍ट्रपति अब्‍दुल्‍ला यामीन द्वारा फरवरी में देश में आपातकाल लागू करने के बाद से भारत और मालदीव के संबंधों में खटास आई है।

नेपाल के बारे में श्री मोदी ने कहा कि भारत और नेपाल के हजारों वर्षों से ऐतिहासिक, घनिष्‍ठ, मैत्रीपूर्ण और पारिवारिक संबंध रहे हैं। भारत-श्रीलंका संबंधों पर प्रधानमंत्री ने आशा व्‍यक्‍त की कि श्रीलंका हमेशा भारत की सुरक्षा चिंताओं को ध्‍यान में रखेगा। श्री मोदी ने कहा कि श्रीलंका के साथ भारत के संबंध बहुत गहरे और बहुआयामी हैं।