नस्लभेदी टिप्पणी पर पाकिस्तानी कप्तान ने मांगी माफी

दक्षिण अफ्रीकी प्लेयर एंडिल फेहलुकवायो के खिलाफ की गई विवादित टिप्पणी के मामले पाकिस्तानी क्रिकेट टीम के कप्तान सरफराज अहमद ने माफी मांग ली है। उन्होंने 3 ट्वीट करते हुए एंडिल फेहलुकवायो से माफी मांगी। उन्होंने कहा कि वह नहीं चाहते थे कि उनके फ्रस्टेशन वाले शब्द कोई सुने या समझे। उनका इरादा किसी को दुख पहुंचाने का नहीं था। सरफराज ने अपने पहले ट्वीट में लिखा, ‘मैं कल साउथ अफ्रीका के खिलाफ वनडे में दुर्भाग्यवश स्टंप माइक में कैद हुए अपने उन कुंठित शब्दों के लिए हर उन सभी लोगों से माफी मांगता हूं, जो उससे आहत हुए। मेरी उन्होंने अगले ट्वीट में लिखा- मेरा इरादा किसी को दुख पहुंचाने का नहीं था। यही नहीं, मैं तो यह भी नहीं चाहता था कि विपक्षी टीम और क्रिकेट फैंस मेरी बातें सुने और समझें। मैंने हमेशा साथी खिलाड़ियों का सम्मान किया है। सरफराज ने अपने अंतिम ट्वीट में लिखा- मैं उनका मैदान के अंदर और बाहर सम्मान करता रहूंगा।

दरअसल पूरा मामला डरबन में पाकिस्तान और साउथ अफ्रीका के बीच खेले गए सीरीज के दूसरे वनडे मैच का है। एक वायरल विडियो फुटेज में विकेटकीपिंग कर रहे सरफराज साउथ अफ्रीकी प्लेयर एंडिल फेहलुकवायो को ‘काला’ कहते दिख रहे हैं। दरअसल उनकी यह टिप्पणी स्ट्ंप्स में लगे कैमरे में कैद हो गई थी। सरफराज के इस कॉमेंट पर क्रिकेट जगत में हंगामा मचा है और उन पर कार्रवाई की मांग हो रही है। मैच के 37वें ओवर में जब फेहलुकवायो बल्लेबाजी कर रहे थे, तब सरफराज ने एक बड़ी पंक्ति कही जिसमें नस्लभेदी शब्दों का इस्तेमाल किया। विडियो में 31 साल के कप्तान सरफराज कह रहे हैं- अबे काले, तेरी अम्मी आज कहां बैठी हैं? क्या पढ़वा के आया है आज? उस वक्त पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर रमीज राजा मैच में कॉमेंट्री कर रहे थे। जब साथी कॉमेंटेटर माइक हेजमैन ने उनसे इस लाइन का अनुवाद करने को कहा तो रमीज ने जवाब दिया- इसका ट्रांसलेशन काफी मुश्किल है, यह एक लंबा वाक्य है।