रूपक: इतिहास को समेटे एक पुस्तकालय – ख़ुदा बख़्श लायब्रेरी , पटना