भारतीय वायुसेना में मारक क्षमता को बढ़ाने के लिए आज चार हैवीलिफ्ट-चिनूक हैलीकॉप्‍टर शामिल।

भारतीय वायुसेना में आज चार हैवीलिफ्ट-चिनूक हैलीकॉप्‍टर विधिवत् शामिल किये गये। एयर चीफ मार्शल बी एस धनोआ ने चण्‍डीगढ़ के वायुसेना बेस में आयोजित समारोह में यह घोषणा की। चिनूक हैलीकॉप्‍टर चण्‍डीगढ़ के वायु सेना स्‍टेशन 12 विंग में तैनात किये जाएंगे।
इस अवसर श्री धनोआ ने कहा कि ये हैलीकॉप्‍टर सीधे ऊपर उठ सकते हैं और पहाड़ी इलाकों में भारी वजन उठा सकते हैं। उन्‍होंने कहा कि देश की विविध सुरक्षा चुनौतियों को देखते हुए सीधे ऊपर उठने की क्षमता जरूरी है।
ये बड़ी संख्‍या में लोगों को ले जा सकता है। साथ ही बहुत ही ऊंचाई में उड़ान भर सकता है। ये दिन और रात दोनों ही समय में सैनिक कार्रवाई के लिए ये सक्षम है। 24सौ घंटे कार्रवाई के लिए उपलब्‍ध होने की सुविधा पहले वायुसेना के पास नहीं थी। फाइटर जैट में रफाल की तरह ही ये भी बड़ा परिवर्तन लाएगा।