ईरान के राष्ट्रपति पद के लिए दोबारा चुने गए रूहानी...

आलेख: डॉ. आसिफ शूजा, रिसर्च फ़ेलो, इंडियन काउंसिल ऑफ वर्ल्ड अफेयर्स अनुवादक: देवेन्द्र त्रिपाठी  ईरान के पदस्थ राष्ट्रपति हसन रूहानी ने लगातार दूसरी बार राष्ट्रपति का चुनाव जीत लिया है। उन्होंने अपने ...

सी.पी.ई.सी. पर गिलगित-बाल्टिस्तान में विरोध प्रदर्शन...

आलेख – डॉ. स्मिता, रिसर्च फैलो, आई.सी.डब्ल्यू.ए. हाल ही में पाकिस्तान ने पाँच बाँधों के विकास के लिए चीन के साथ ऐतिहासिक सहमतिपत्र पर दस्तखत किए। सिन्धु नदी के जलग्रहण क्षेत्र में प्रस्तावित इन...

 नासा द्वारा कलामसैट का प्रक्षेपण...

आलेख – शंकर कुमार, पत्रकार अमरीकी स्पेस एजेंसी नासा 21 जून को दुनिया के सबसे छोटे उपग्रह ‘कलामसैट’का प्रक्षेपण करके इतिहास रचने जा रही है। विख्यात परमाणु वैज्ञानिक डॉ. ए.पी.जे. अब्दुल कलाम पर नामित इ...

आईसीजे के फैसले ने भारत के पक्ष को सही ठहराया...

आलेख- डॉ. अशोक बेहुरिया, संयोजक, दक्षिण एशिया केन्द्र, आईडीएसए अनुवादक – डॉ. प्रवीन कुमार कुलभूषण जाधव मामले में भारत के पक्ष को सही ठहराते हुए अंतरराष्ट्रीय न्यायालय (आईसीजे) ने पाकिस्तान को सख्त लह...

पाकिस्तान का सामना अब अंतर्राष्ट्रीय क़ानून से...

अनगिनत पलों का कारवां है ज़िंदगी। ये पल राहत और ख़ुशी का है कुलभूषण जाधव के परिवार, दोस्तों और हर उस इन्सान के लिए जो निष्पक्षता और न्याय में यक़ीन रखता है चूंकि अंतर्राष्ट्रीय न्यायालय ने भारतीय नागरिक...

भारत द्वारा फ़लस्तीन के साथ प्रगाढ़ सम्बन्धों की पुष्टि...

आलेख: डॉ. ध्रुबज्योति भट्टाचार्जी, शोधार्थी, अनुवाद : हर्ष वर्धन फ़लस्तीन के राष्ट्रपति महमूद अब्बास की भारत यात्रा से इसराइल-फ़लस्तीन के बीच रुकी पड़ी शांति प्रक्रिया को आरम्भ करने के लिए एक नयी ऊर्जा ...

सी.पी.ई.सी पर भारत का सूक्ष्म दृष्टिकोण...

आलेख :- डॉ. जगन्नाथ पांडा अंतर्राष्ट्रीय लेखों में सम्प्रभुता और इतिहास का सन्दर्भ वैश्विक होता है. परन्तु चीन की विदेश नीति के उद्देश्यों में सम्प्रभुता और इतिहास का यह तथ्य कुछ अलग हो गया है. पाक अ...

पाकिस्तान की छद्म न्यायिक प्रक्रिया...

आलेख- कौशिक रॉय भारत ने हेग स्थित अंतरराष्ट्रीय न्यायालय या आईसीजे में कुलभूषण जाधव मामले में की सुनवाई में अपना पक्ष रखा है और जाधव की फाँसी की सज़ा को रद्द किए जाने की कड़ी माँग की है। ग़ौरतलब है क...

 वाशिंगटन ने आतंक को पोषित करने को लेकर इस्लामाबाद को फटकारा...

आलेख – एम के टिक्कू, राजनीतिक टिप्पणीकार इस वर्ष की शुरुआत में अमरीका के राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप द्वारा कार्यालय संभालने के बाद अतिवाद पर शिकंजा कसने पर उनके प्रशासन का दृष्टिकोण तथा क्षेत्रीय मामलों...

राष्ट्रपति मून के नेतृत्व में बढ़ेंगे भारत-दक्षिण कोरिया के रिश्ते...

आलेख- रुपा नारायण दास दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति चुनाव में 64 वर्षीय मून जे इन की बड़ी जीत ने ना सिर्फ कोरियाई प्रायद्वीप बल्कि पूरे क्षेत्र में एक उम्मीद की किरण लेकर आई है। राष्ट्रपति चुनाव में कर...