डा0 सुबोध मोहन्ती

प्रसारण तिथिः 22.03.2016 जाने माने विज्ञान संचारक, वरिष्ठ लेखक और विज्ञान प्रसार के पूर्व निदेशक डा0 सुबोध मोहन्ती से उनके बचपन, शिक्षा, शोध, लेखन कार्य और भविष्य की योजनाओं पर केन्द्रित अन्तरंग बातच...

डा0 राजेन्द्र गौतम से अन्तरंग बातचीत...

कवि, लेखक, कहानीकार, समीक्षक और आलोचक डा0 राजेन्द्र गौतम का जन्म हरियाणा राज्य के जीन्द जिले में हुआ था । दिल्ली विश्व विद्यालय में हिन्दी विभाग के प्रोफेसर रहे डा0 गौतम ने हरियाणा लोक संगीत पर गहन अ...

श्री बलदेव भाई शर्मा की जीवन गाथा...

लेखक, कवि, समाज सेवी और वर्तमान में नेशनल बुक ट्र्स्ट के अध्यक्ष, श्री बलदेव भाई शर्मा से वरिष्ठ कार्यक्रम अधिशासी ;दूरदर्शनद्ध श्री अखिलेश मिश्रा की अन्तरंग बातचीत के माध्यम से, उनके जीवन के अनेक पह...

पदमश्री डा0 एस.एस. यादव

जाने माने हड्डी कैंसर रोग विशेषज्ञ और सर्जन, पदमश्री डा0 एस.एस. यादव, चिकित्सा जगत में जाना माना नाम है । कई एक राष्ट्रीय और अन्तर्राष्ट्रीय पुरस्कारों से सम्मानित डा0 यादव पी.जी.आई. रोहतक के पहले सं...

प्रो0 यषपाल से डा0 मनोज पटेरिया की बातचीत...

जाने माने ख्याति प्राप्त अंतरिक्ष वैज्ञानिक, भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन और विष्व विद्यालय अनुदान आयोग के पूर्व अध्यक्ष पदमविभूशण से सम्मानित प्रो0 यषपाल से आकाषवाणी के अपर महानिदेषक डा0 मनोज पटेर...

प्रो0 जे0एस0 राजपूत, एन.सी.ई.आर.टी.के पूर्व निदेषक एवं एन.सी.ई.टी. के ...

प्रो0 जे0एस0 राजपूत, एन.सी.ई.आर.टी.के पूर्व निदेषक एवं एन.सी.ई.टी. के पूर्व अध्यक्ष पदमश्री अवार्ड से सम्मानित जाने-माने षिक्षाविद से अन्तरंग बातचीत । पूर्व प्रसारण कर्मी डा0 कौषल षर्मा ने, सहज और स्...

पूर्व महानिदेषक डा0 ष्याम सिंह ‘‘षषी‘‘...

कवि, लेखक, हिन्दी सेवी और प्रकाषन विभाग के पूर्व महानिदेषक डा0 ष्याम सिंह ‘‘षषी‘‘ से ली गई अन्तरग बातचीत के माध्यम्म से उनके जीवन के अनछुए पहलुओ को उभारने का प्रयास किया गया है । एक सामान्य से किसान ...

पूर्व अध्यक्ष प्रो0 कृष्ण लाल...

श्रोताओं कार्यक्रम – यादों के झरोखे में आप सभी का स्वागत है । साथियों इस कार्यक्रम में जानी-मानी हस्तियों से आपकी मुलकात करवाते है और बांटते है उनके जीवन के अनुभव और जानते हैं उनके जीवन के प्रर...

जानी मानी प्रसारणकर्मी और कहानीकार श्रीमती विजय लक्ष्मी सिन्हा, सेवानि...

श्रीमती विजय लक्ष्मी सिन्हा बचपन से ही आकाषवाणी राॅंची और पटना केंद्र से जुड़ी रही हैं । अपनी मधुर वाणी और कार्यक्रम प्रस्तुतिकरण के अनोखें अंदाज के कारण श्रोताओं में बहुत लोकप्रिय रही है । विविध भारत...