गोदान का होरी

समीक्षक – डॉ. नीलिमा चौहान, डॉ. जाकिर हुसैन कॉलेज, दिल्ली विश्वविद्यालय उपन्यासकार प्रेमचंद के द्वारा सन 1936 में रचा गया उपन्यास ” गोदान” हिंदी साहित्य की महत्‍त्‍वपूर्ण उपलब्धि है । प्र...